भारत का पहला व्यक्तिगत ओलंपिक पदक विजेता कौन था ?

By : Samarjeet Singh  |  Updated On : 03 Aug, 2021

भारत का पहला व्यक्तिगत ओलंपिक पदक विजेता कौन था

पहलवान खशाबा दादासाहेब (Khashaba Dadasaheb Jadhav) जाधव पुरुषों की फ्रीस्टाइल बैंटमवेट श्रेणी में कांस्य पदक के साथ भारत के पहले व्यक्तिगत ओलंपिक पदक विजेता बने। यह पहलवान के लिए उनकी मेहनत का ईनाम था। इस रेसलर को अपनी ओलंपिक यात्रा के लिए धन इकट्ठा करने के लिए दर-दर भटकना पड़ा लेकिन अंत में ना केवल उन्होंने ओलंपिक में हिस्सा लिया बल्कि पदक भी जीता। 

1952 हेलसिंकी ओलंपिक में तमाम कठिनाइयों और आर्थिक अडचनों से पार पाने के बाद जाधव ने  कांस्य पदक जीता । वह ओलंपिक की व्यक्तिगत स्पर्धा में पदक जीतने वाले स्वतंत्र भारत के पहले खिलाड़ी थे । पहलवान खशाबा दादासाहेब का जन्म महाराष्ट्र के सातारा जिले के छोटे से गांव गोलेश्वर में हुआ था   अगला व्यक्तिगत पदक 1996 में टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस ने अटलांटा ओलंपिक जीता ।

क्या आप इस Fact के बारे में पहले जानते थे। अगर हां तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करें। यदि आपने हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब नहीं किया है तो चैनल को सब्सक्राइब भी कीजिए