रेलवे स्टेशन, टर्मिनल, सेन्ट्रल और जंक्शन के बीच का अंतर अगर आप नहीं जानते हैं तो ज़रूर जान लीजिये

By : Arshad  |  Updated On : 22 Aug, 2021

रेलवे स्टेशन, टर्मिनल, सेन्ट्रल और जंक्शन के बीच का अंतर अगर आप नहीं जानते हैं तो ज़रूर जान लीजिये - Fiveminute.in

भारतीय रेलवे दुनिया का सबसे बिज़ी रेलवे नेटवर्क में से एक है, 68,525 km कुल लम्बाई में भारतीय रेलवे का रेलवे ट्रैक बिछा हुआ है, लिस्ट में पहले स्थान पर अमेरिका आता है, रोजाना लाखों लोग ट्रेन का सफ़र करते हैं पर शायद ही आप रेलवे स्टेशन, टर्मिनल, सेन्ट्रल और जंक्शन के बीच का अंतर बता पायें, तो जानिये इनके बीच का अंतर.

टर्मिनल (टर्मिनस)

टर्मिनल रेलवे स्टेशन उसे कहा जाता है जिसके आगे कोई रेलवे लाइन नहीं होती है, मतलब उसके आगे ट्रेन नहीं जा सकती है, टर्मिनल रेलवे स्टेशन से चलने वाली ट्रेनें सिर्फ एक ही दिशा से आती और जाती रहती हैं जैसे दिल्ली का की मशहूर रेलवे स्टेशन आनंद विहार टर्मिनल या लोकमान्य तिलक टर्मिनल.

जंक्शन

जंक्शन रेलवे स्टेशन उसे कहा जाता है जो उस जगह का सबसे बेहतरीन रेलवे स्टेशन हो, इसकी परिभाषा यही है कि जंक्शन वो होता है जहाँ से तीन या तीन से अधिक अलग-अलग ट्रेन के रूटों का मिलान होता है. आपको ये भी बता दें कि उत्तर प्रदेश का मथुरा रेलवे जंक्शन भारत का सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन माना जाता है जहाँ से ट्रेन के 7 अलग-अलग रूट निकलते हैं. जंक्शन रेलवे स्टेशन से ही आप एक राज्य से दूसरे राज्य में जा सकते हैं.

सेंट्रल

जिस शहर के रेलवे स्टेशन के बाद में सेंट्रल शब्द जुड़ा होता है तो समझ जाइए कि वो उस जगह का सबसे बड़ा और प्रमुख रेलवे स्टेशन है, यह शहर भर के ट्रांसपोर्ट का भी केंद्र होता है. भारत में टोटल 5 ऐसे रेलवे स्टेशन है जिनको सेंट्रल का नाम दिया गया है चेन्नई, मुंबई, मैंगलोर, कानपुर और त्रिवेंदम रेलवे स्टेशनों को जंक्शन कहा गया है. आपको ये भी बताते चलें टर्मिनल (टर्मिनस), जंक्शन, सेंट्रल के अलावा सभी रेलवे स्टेशन सामान्य रेलवे स्टेशन होते हैं.