रूसी (Dandruff)- कारण, लक्षण और इलाज

By : Admin  |  Updated On : 17 Aug, 2020

रूसी (Dandruff)- कारण, लक्षण और इलाज

अगर आपको कभी भी रूसी (डैंड्रफ) हुआ हो तो आपको मालूम होगा की यह कितना चिंताजनक होता है। हर 2 में से एक व्यक्ति को अपनी पूरी जीवन में कभी ना कभी इस समस्या का सामना करना ही पड़ता है। बच्चों से लेकर बूढ़ों तक यह समस्या आम है। रूसी की समस्या सर्दी के मौसम में ज्यादा देखा जाता है, जैसे जैसे मौसम शुष्क होने लगता है वैसे वैसे हमारे शरीर की त्वचा भी शुष्क हो जाती है इसके कारण रूसी की समस्या उत्पन्न होती है। आज हम जानेंगे रूसी की समस्या का मुख्य कारण और इस बीमारी से निजात हम कैसे पा सकते हैं।

रूसी होने के कारण ( causes of dandruff )

हमारी सिर की त्वचा में प्राकृतिक रूप से उत्पन्न माइक्रोब्स (malassezia globosa) पाया जाता है। यह एक प्रकार का खमीर (yeast) है, जो हमारे शरीर में प्राकृतिक रूप से उत्पन्न होता है। यह नुकसानदेह नहीं है परंतु कभी-कभी यह कुछ त्वचा संबंधी रोग उत्पन्न करता है जैसे खुजली होना, डैंड्रफ आदि।

 

ऑयली त्वचा (oily skin)

ऑयली त्वचा होने का मुख्य कारण हमारे शरीर में सिबम (sebum)का ज्यादा उत्पन्न होना होता है। जिसके कारण हमारी त्वचा में सफेद परत जमने लगते हैं। ऐसी स्थिति आपकी सिर और शरीर के अन्य भाग को प्रभावित कर सकती है जहां ऑयल ग्रंथियां ज्यादा मौजूद होती हैं, जैसे कि आपके नथुने के आसपास , आपके कानों की पीछे, कमर और कांख।

 

बालों की सफाई (Hair cleaning)

अगर आप अपने बालों को नियमित रूप से नहीं धोते हैं तो आपको डैंड्रफ की समस्या हो सकती है। हालांकि रोजाना बालों में शैंपू लगाने से भी आपकी त्वचा रूखी हो सकती है,  जिसके कारण भी dandruff जैसी समस्या उत्पन्न हो सकती है। इसलिए शैंपू के इस्तेमाल में 1 या 2 दिन का अंतर होना चाहिए।

 

वायु प्रदूषण (Air Pollution)

प्रदूषित हवा में मौजूद केमिकल्स हमारी त्वचा को नुकसान पहुंचाती है ।प्रदूषण डैंड्रफ होने का एक महत्वपूर्ण कारण है।

 

असंतुलित आहार (unbalanced diet)

असंतुलित भोजन करने से भी त्वचा संबंधी परेशानियां होती हैं। त्वचा को हेल्दी रखने के लिए विटामिन A, C और ए से युक्त भोजन करना चाहिए, जिससे हमारी त्वचा को पोषण मिल सके।

 

रूसी (dandruff) होने के लक्षण (Symptoms of dandruff)

सिर खुजलाना, बालों का झड़ना, सिर के त्वचा में सफेद स्क्रब या फ्लैक्स का होना कुछ प्रमुख लक्षण है। 

 

रूसी का इलाज (Cure of dandruff)

डैंड्रफ को उचित उपचार से नियंत्रित किया जा सकता है। सबसे पहले, एक गैर औषधीय शैम्पू के साथ शैम्पू करने की कोशिश करें, सर को अच्छे से मालिश करें, और फिर अच्छी तरह से रिन्सिंग करें। बार-बार शैम्पू करने से गुच्छे दूर हो जाते हैं, तेलीयता कम हो जाती है और मृत त्वचा कोशिका का निर्माण रुक जाता है। अगर इससे फायदा न हो
तो विशेष रूप से एंटीडैंड्रफ शैंपू सहायक होते हैं।

 

रूसी का प्राकृतिक इलाज (Natural cure for dandruff)


नीम (neem)

नीम एक बेहतरीन एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल है। यह इतनी अच्छी तरह से सूजन को ठीक करता है कि यह चिकन पॉक्स के दौरान खुजली वाली त्वचा से राहत के लिए प्रयोग किया जाता है। अगर आपको रूसी है, तो एक साधारण नीम का पेस्ट बनाकर सिर पर लगाने से डैंड्रफ से छुटकारा मिल जायेगा

मेथी (Fenugreek)

मेथी, बालों को बेहतर बनाने के लिए जानी जाती है। यह न केवल जड़ों को मजबूत करता है और बालों की मोटाई में सुधार करता है, बल्कि यह सिर की त्वचा को भी मजबूत बनाता है। दो चम्मच मेथी के बीज को रात भर पानी में भिगो दें और सुबह एक महीन पेस्ट में पीस लें। सादे पानी से धोने से 30 मिनट पहले इस पेस्ट को सिर और बालों पर लगाएं। एक महीने के लिए सप्ताह में दो बार इस उपचार का उपयोग करें।

नारियल तेल और नींबू (coconut oil and lemon)

नारियल तेल त्वचा को मॉइस्चराइज़ करता है और खुजली को कम करता है। नींबू में एंटीफंगल गुण होते हैं और इसमें साइट्रिक एसिड होता है जो डैंड्रफ से लड़ने के लिए काफी प्रभावी है। इसकी अम्लीय प्रकृति, सूखी त्वचा के पीएच स्तर को संतुलित करने और जलन को शांत करने में मदद करती है। चार चम्मच गर्म नारियल तेल और दो चम्मच नींबू का रस मिलाकर सिर पर मालिश करें और 30 मिनट के लिए छोड़ दें फिर शैम्पू से धोएं। यह घरेलू उपाय डैंड्रफ के इलाज के लिए महीने में दो बार किया जा सकता है।