जलकुम्भी के फायदे और इस्तेमाल की विधि।

By : FiveMinute  |  Updated On : 13 Feb, 2021

जलकुम्भी के फायदे और इस्तेमाल की विधि। Benefits and method of use of hyacinth.

जलकुंभी (hyacinth) के फूल सभी को बहुत पसंद आते है, यह दिखने में बहुत ही खूबसूरत होते हैं। यह फूल सर्दियों के आरम्भ का प्रतिक है। इस फूल की मीठी सुगंध छोटे नारंगी जैसी होती है।इसके अलावा, जलकुंभी के पेड़ और पत्तियों में कई गुण हैं। जो हमारे लिए बहुत ही लाभदायक है। कई लोग अपने घरों में जलकुंभी के पौधे रखते है और प्रायः इस्तेमाल करते हैं। इस आर्टिकल में हम जलकुंबी के फायदे के बारे में जानेंगे :

कफ और खासी  (Cough)को दूर करता है ।

सुबह सुबह जलकुंभी के दो या तीन पत्ते लेकर, उन्हें पानी में अच्छे से धोकर और उन्हें  अच्छी तरह से चबाकर उसके रास को पिने से  खासी  जाती है। हालांकि इसका रस  बहुत कड़वा होता है, लेकिन, यदि आप इसे नियमित रूप से सेवन करते करते हैं, तो खांसी के साथ साथ आपके कफ की बीमारी भी ठीक हो जाएगी।

सायटिका  (sciatica)के दर्द को दूर करता है ।

सायटिका का दर्द बहुत से लोगो  में एक आम बीमारी है, ख़ास कर यह बीमारी महिलाओ को ज्यादा परेशान करती है। यह कमर के निचले हिस्से में होने वाली बीमारी है जो सायटिका नस के दबने के कारण होती है। प्रायः लोग इसे कमर में होने वाली आम दर्द जैसा समझते है, पर इसका सही समय में इलाज नहीं होने से यह शरीर के दूसरे अंगो में भी फ़ैल जाता है। सायटिका के दर्द को कम करने के लिए जलकुंभी बहुत उपयोगी होता है। सायटिका के पत्तों और कुछ तुलसी के पत्तों को रोज सुबह पानी में उबालें और पानी छान लें और सुबह शाम इसका उपयोग करे, इससे आपको दर्द में काफी राहत मिलेगी।

गठिया (Arthritis) को ठीक करने में मदद करता है।

अगर आप चाय के शौकीन है तो आप इसे चाय की तरह इस्तेमाल कर सकते है। रोज सुबह एक कप पानी में दो जलकुंभी के पत्ते और दो तुलसी के पत्तों को उबालकर छान लें। यह एक प्रकार की हर्बल चाय जैसी बन जाती है। इससे गठिया के खतरे को कम करने में मदद मिलती है।

अन्य बीमारियों में लाभदायक।

जलकुम्भी के इस्तेमाल से हम बहुत से बराबर होने वाली छोटी छोटी बीमारियों का इलाज आसानी से कर सकते है जैसे: बुखार ठीक करने में मदद करता है, बैक्टीरिया के विकास को रोकता है, चेहरे के मुंहासों को रोकने में मदद करता है, बालों को झड़ने से बचाता है, शरीर से अतिरिक्त चर्बी को काम करने में मदद करता है ।