क्या होता है मांगलिक दोष और इससे कैसे बचे|

By : FiveMinute  |  Updated On : 16 Jan, 2021

क्या होता है मांगलिक दोष और इससे कैसे बचे| - kya hota hai maanglik dosh aur isse kaise bache

मांगलिक दोष : कुछ लोगों को मांगलिक दोष होने के कारण विवाह में देरी या विवाह न होना जैसे मुसीबतों का सामना करना पड़ता है | ऐसा भी कहा जाता है की अगर लड़का या लड़की मंगल दोष से प्रभावी हैं  तो उन्हें मंगल दोष वाले लोग से ही सादी करनी चाहिए नहीं तो उनके शादी शुदा जीवन में बहुत मुश्किलें आतें हैं | बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो मंगल दोष से बहार आने के लिए ज्योतिषी का मदद लेते हैं, वहीँ कुछ लोगों को इससे लाभ भी मिलता है| जानिये मंगल दोष से बाहर आने के उपाय | 


जब किसी लड़का या लड़की के कुंडली में लग्न, चतुर्थ, सप्तम, आठवें या बाहरवें भाव में हो तो उसे मंगल दोष कहा जाता है | अगर मंगल का लग्न आठवे भाव में हो तो उसको काफी गंभीर माना जाता है | सामान्य तौर पे ये समस्या तब सामने आती जब घर में शादी की बात चल रही होती है | 


मांगलिक दोष की समस्या से बाहर कैसे निकलें :-

1. अगर कोई लड़की मांगलिक दोष से प्रभावित है तो उसे उस दोष से मुक्ति पाने के लिए उसका पीपल विवाह, कुंभ विवाह, शालिग्राम विवाह आदि करने के बाद मंगल यंत्र का पूजन करने से इस दोष का प्रभाव कम हो जाता है।

2. ज्योतिष के अनुसार मंगल दोष से प्रभावित लड़का या लड़की के साथ कभी कभी 28 वर्ष के बाद मंगल दोष अपने आप ख़त्म हो जाता है|  और राशि अगर मेष, कर्क, वृश्चिक में से हो तो ख़त्म होने की सम्भावना रहती है | 

3. अगर लड़का या लड़की के कुंडली में मंगल दोष हो, लेकिन शनि मंगल की और देखता है तो मंगल दोष खत्म हो जाता है। मकर लग्न में मकर राशि का मंगल और सप्तम स्थान में कर्क राशि का चंद्र हो तो मंगल दोष खत्म हो जाता है।

4. मंगल दोष वाले लोगों के कुंडली में मंगल के स्थान को छोड़ कर सामने वाले स्थानों पाप ग्रह हो तो मंगल दोष समाप्त हो जाता है| उस व्यक्ति को फिर मंगल दोष मुक्त माना जाता है, और केंद्र में चन्द्रमा 1,4,7,10 वे घर में हो तो मंगल दोष पूरी तरह से समाप्त हो जाता है| 

5. मंगल यंत्र का इस्तेमाल उचित परिस्थिति या बहुत जरुरी हो तभी करना चाहिए| जैसे की विवाह में देरी, संतान प्राप्ति में समस्या, तलाक विवाद, दाम्पत्य सुख में दिक्कत या कोर्ट-कचहरी जैसी स्तिथि में ही इसका उपयोग करना चाहिए| छोटे कामो में इसका इस्तेमाल करना मना होता है|